लद्दाख में टैंक अभ्यास के दौरान 5 जवान शहीद, बाढ़ आने से बढ़ गया था पानी का जलस्तर

शुभम गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Ladakh: लद्दाख के न्योमा-चुशुल क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास शुक्रवार देर रात टी-72 टैंक पर सवार होकर नदी पार करते समय सेना के पांच जवान बह गए और उनकी मौत हो गई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि यह घटना LAC से 148 किलोमीटर दूर मंदिर मोड़ के पास देर रात करीब एक बजे अभ्यास के दौरान हुई.

अधिकारियों ने बताया कि पांच सैनिकों को लेकर जा रहा टी-72 टैंक नदी पार करते समय अचानक आई बाढ़ के कारण डूब गया. रक्षा अधिकारियों का कहना है कि बचाव अभियान शुरू कर दिया गया है. 

राजनाथ सिंह ने किया एक्स पर पोस्ट

लद्दाख में हुई घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वह सेना के पांच जवानों की जान जाने से बेहद दुखी हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक्स पर लिखा कि 'लद्दाख में एक नदी के पार टैंक ले जाते समय एक दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में हमारे पांच बहादुर भारतीय सेना के जवानों की जान जाने पर गहरा दुख हुआ. हम राष्ट्र के प्रति अपने वीर सैनिकों की अनुकरणीय सेवा को कभी नहीं भूलेंगे। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। दुख की इस घड़ी में देश उनके साथ मजबूती से खड़ा है.'

ADVERTISEMENT

खरगे ने शोक व्यक्त किया

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने लद्दाख में हुई घटना पर शोक व्यक्त किया. उन्होंने एक्स पर लिखा कि लद्दाख में एक नदी के पार टी-72 टैंक पार करते समय एक जेसीओ सहित 5 भारतीय सेना के बहादुरों की जान जाने से बहुत व्यथित हूं.

ADVERTISEMENT

इस दर्दनाक त्रासदी का शिकार हुए सेना के जवानों के परिवारों के प्रति हमारी हार्दिक संवेदना. दुःख की इस घड़ी में, राष्ट्र हमारे बहादुर सैनिकों की अनुकरणीय सेवा को सलाम करने के लिए एक साथ खड़ा है.

follow on google news
follow on whatsapp

ADVERTISEMENT