'थप्पड़ मारे, जमीन पर गिर गई फिर भी लात-घूंसे बरसाता रहा विभव...', स्वाति मालीवाल ने पुलिस को क्या बताया

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Swati Maliwal Case: दिल्ली सीएम और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल के घर पर बीते 13 मई को हंगामा हुआ. AAP की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ सीएम के घर पर बदसलूकी की गई. इस मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है. एफआईआर में स्वाति ने सीएम केजरीवाल के निजी सचिव विभव कुमार को आरोपी बनाया है और उन पर गंभीर आरोप लगाए हैं. स्वाति का कहना है कि, उन्हें लात-घूसों से मारा गया है. पेट और पूरे शरीर पर भी हमला किया गया है. एफआईआर में स्वाति ने दिल्ली पुलिस को चार दिन पहले किए गए पीसीआर कॉल के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी है. 

स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस को दिए अपने बयान में 13 मई का पूरा घटनाक्रम बताया हैं. उन्होंने यह भी बताया कि पुलिस को किन हालातों में उन्होंने पीसीआर कॉल की थी. दिल्ली के सिविल लाइन थाने में पुलिस ने IPC की धारा 354 (छेड़छाड़), 506 (जान से मारने की धमकी), 509 (अभद्र कमेंट करना), 323 (मारपीट) के तहत FIR दर्ज की है. दिल्ली पुलिच के साथ-साथ राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने भी आज यानी शुक्रवार को विभव को तलब किया है.

स्वाति मालीवाल ने पुलिस से क्या कहा है?

स्वाति मालीवाल ने पुलिस को दिए बयान में कहा, 'मेरी तरफ से बिना किसी उकसावे के उसने (विभव) मुझे थप्पड़ मारना शुरू कर दिया. मैं चिल्लाती रही, उसने मुझे कम से कम 7-8 थप्पड़ मारे. मैं पूरी तरह सदमे में थी और बार-बार मदद के लिए चिल्ला रही थी. खुद को बचाने के लिए मैंने उसे अपने पैरों से दूर धकेला. इस बीच, वो फिर मुझ पर झपटा और बेरहमी से पिटाई करने लगा. मेरी शर्ट खींच दी. मेरी शर्ट के बटन खुल गए. उसने मेरा सिर पकड़ा और टेबल पर मार दिया. मैं लगातार मदद के लिए चिल्ला रही थी और उसे अपने पैर से दूर धकेल रही थी. उसके बावजूद विभव कुमार नहीं माना और वो अपने पैरों से मेरे सीने, पेट और कमर के निचले हिस्से पर लात मारकर हमला करता रहा.'

उन्होंने कहा, 'मुझे बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था और मैं उसे रुकने के लिए मिन्नतें करती रही. मेरी शर्ट निकलती जा रही थी. फिर भी वो मुझ पर हमला करता रहा. मैंने उससे बार-बार कहा कि मुझे पीरिएड आ रहे हैं और मुझे छोड़ दो. मुझे बहुत दर्द हो रहा था. हालांकि, उसने बिल्कुल रहम नहीं किया और वो बार-बार पूरी ताकत से हमला करता रहा. मैं किसी तरह छूटकर भागी. फिर मैं ड्राइंग रूम के सोफे पर बैठ गई और हमले के दौरान जमीन पर गिरे अपने चश्मे को उठाया. इस हमले के बाद मैं सदमे में आ गई. मुझे गहरा सदमा लगा और मैंने 112 नंबर पर कॉल करके घटना की सूचना दी.'

केजरीवाल से मिलने सीएम आवास पहुंची थीं स्वाति

दिल्ली सीएम केजरीवाल के जेल से आने के बाद स्वाति मालीवाल 13 मई को उनसे मिलने उनके घर गई थीं. स्वाति ने अपनी शिकायत में दावा किया है कि, जब वो ड्राइंग रूम में उनका इंतजार कर रही थी, तभी विभव ने मेरे साथ साथ बदसलूकी की. मेरी तरफ से बिना किसी उकसावे के उसने हमला किया है, जिसके बाद स्वाति ने पीसीआर कॉल कर पुलिस को सूचना दी थी. बाद में स्वाति पुलिस स्टेशन भी पहुंची थीं. हालांकि उस दिन उन्होंने बिना किसी शिकायत दर्ज कराए ही चली गई थीं. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

एक्शन में आ गई है दिल्ली पुलिस

FIR रजिस्टर करने के बाद दिल्ली पुलिस की टीमें एक्शन में आ गई हैं. नॉर्थ डिस्ट्रिक क्राइम ब्रांच पूरे केस की जांच में जुटी है. पुलिस की करीब 10 टीमें पूरे मामले की जांच में जुटी हैं, जिसमें चार टीमें विभव की लोकेशन पता लगा रही है. पुलिस सबसे पहले पूरी घटना की टाइमलाइन बना रही है. उसके सीक्वेंस के हिसाब पुलिस सीसीटीवी फुटेज तलाशने की कोशिश करेगी. विभव कहां हो सकता है, पुलिस इसके बारे में पता कर रही है. वैसे शुक्रवार यानी आज महाराष्ट्र में INDIA ब्लॉक की रैली है. पुलिस को शक है कि कहीं विभव महाराष्ट्र तो नहीं चला गया. क्योंकि बीते दिन लखनऊ में हुई अरविन्द केजरीवाल और अखिलेश यादव की प्रेस वार्ता में वो दिखा थे. 

स्वाति ने ट्वीट कर लिखा मेरे साथ जो हुआ बहुत बुरा था 

स्वाति मालीवाल ने बीते दिन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट किया जहां उन्होंने लिखा, 'मेरे साथ जो हुआ, वो बहुत बुरा था. मेरे साथ हुई घटना पर मैंने पुलिस को अपना स्टेटमेंट दिया है. मुझे आशा है कि उचित कार्रवाई होगी. पिछले दिन मेरे लिए बहुत कठिन रहे हैं. जिन लोगों ने प्रार्थना की, उनका धन्यवाद करती हूं. जिन लोगों ने चरित्र हनन करने की कोशिश की, ये बोला कि दूसरी पार्टी के इशारे पर कर रही हैं, भगवान उन्हें भी खुश रखे. देश में अहम चुनाव चल रहा है. स्वाति मालीवाल जरूरी नहीं है. देश के मुद्दे जरूरी हैं. BJP वालों से खास गुजारिश है कि इस घटना पर राजनीति ना करें.'

ADVERTISEMENT

मेरे साथ जो हुआ वो बहुत बुरा था। मेरे साथ हुई घटना पर मैंने पुलिस को अपना स्टेटमेंट दिया है। मुझे आशा है कि उचित कार्यवाही होगी। पिछले दिन मेरे लिए बहुत कठिन रहे हैं। जिन लोगों ने प्रार्थना की उनका धन्यवाद करती हूँ। जिन लोगों ने Character Assassination करने की कोशिश की, ये बोला…

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT