'मुसलमान और यादवों ने नहीं दिया वोट, नहीं करूंगा उनका कोई काम' JDU सांसद देवेश चंद्र ठाकुर ने किया ऐलान 

News Tak Desk

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Sitamarhi MP Devesh Chandra Thakur: जनता दल यूनाइटेड के नवनिर्वाचित सांसद देवेश चंद्र ठाकुर ने सीतामढ़ी में एक कार्यक्रम के दौरान बड़ा बयान दे दिया हैं. उन्होंने कहा हैं कि, वो मुसलमान और यादवों का कोई काम नहीं करेंगे. उनके इस बयान के पीछे की वजह ये बताई जा रही है कि, हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में इन दोनों समाज से वोट नहीं मिलने से देवेश चंद्र ठाकुर आहत है. आपको बता दें कि, देवेश चंद्र ठाकुर ने लोकसभा चुनाव में सीतामढ़ी से जीत हासिल की है और वो बिहार विधान परिषद के सभापति भी हैं. आइए आपको बताते हैं और क्या-क्या कहा उन्होंने. 

जेडीयू सांसद का छलका दर्द

देवेश चंद्र ठाकुर सीतामढ़ी में आयोजित एक अभिनंदन समारोह में शामिल होने पहुंचे थे जहां उनका दर्द छलक पड़ा. उन्होंने खुले मंच से कहा कि, 22 साल से राजनीति में सक्रिय होने के दौरान उन्होंने सबसे ज्यादा काम यादव और मुस्लिम समाज का किया लेकिन चुनाव में इन लोगों ने बिना किसी कारण के उन्हें वोट नहीं किया. जेडीयू सांसद ने आगे कहा कि, अगर आगे इस समाज के लोग मेरे से काम कराने आते है तो चाय नाश्ता जरूर कराएंगे लेकिन उनका काम नहीं करेंगे. 'जिनको आना है आये चाय नाश्ता करें और जाये मदद की उम्मीद नहीं करें.' 

कुशवाहा समाज को भी लिया आड़े हाथ

सीतामढ़ी सांसद ने ये भी कहा कि क्या कुशवाहा समाज इतना स्वार्थी हो गया है. इस समाज के सरकार में बीजेपी से डिप्टी सीएम हैं. उपेंद्र कुशवाहा अगर जीत गए होते तो आज केंद्रीय मंत्री बन गए होते. उन्होंने कहा कि कुशवाहा समाज से कोई पांच या सात लोग भी सांसद बन जाते जो सीतामढ़ी में उसका क्या फर्क पड़ जाता. क्या सीतामढ़ी के कुशवाहा समाज के लोग उनसे काम करवाने जाते? इनकी सोच कितनी विकृत हो गई है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

देवेशचंद्र ठाकुर ने कहा कि, अगर कह दूं कि कुशवाहा समाज के लोग अपना काम कराने के लिए लालू प्रसाद के सात कुशवाहा उम्मीदवारों के पास जाएं तो कैसा लगेगा. उन्होंने आगे कहा कि मेरे पास एक मुस्लिम समाज के शख्स कुछ काम कराने के लिए आए थे, लेकिन हमने स्पष्ट कह दिया कि आप पहली बार आये है. इसलिए मैं कुछ ज्यादा नहीं कहूंगा. वरना मैं छोड़ता नहीं हूं. आपने वोट तो लालटेन को दिया होगा, तो उस शख्स ने कबूल भी कर लिया.

बिना वजह NDA के वोटों का हुआ चीरहरण

देवेशचंद्र ठाकुर ने यह भी कहा कि, NDA के वोटों में से कितना चीरहरण हुआ इसका कोई भी उचित कारण नहीं है. सुरी और कलवार समाज का आधा से अधिक वोट कट गया, क्या कारण है बताइए? कुशवाहा समाज का वोट अचानक कट गया. यह सब तो NDA का वोट था.  आखिर क्यों कट गया. कुशवाहा समाज के लोग केवल इसलिए खुश हो गए कि लालू प्रसाद ने इस समाज के सात लोगों को टिकट दे दिया था.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT