संसद में कूदकर हंगामा मचाने वालों पर अब राहुल गांधी भी बोले, सुरक्षा में चूक पर कही ये बात

देवराज गौर

ADVERTISEMENT

Rahul Gandhi
Rahul Gandhi
social share
google news

NewsTak: 13 दिसंबर, बुधवार को संसद पर हमले की बरसी के दिन ही संसद की सुरक्षा में बड़ी चूक देखने को मिली थी. विजिटर गैलरी (दर्शक दीर्घा) से दो लड़कों ने कूदकर लोकसभा के अंदर कलर्ड स्मोक उड़ाया. हंगामा काटने के साथ साथ उन्होंने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की. वहीं संसद के बाहर भी दो लोगों ने रंगीन धुंआ उड़ाया और तानाशाही नहीं चलेगी जैसे नारे लगाए. इस घटना के बाद संसद सुरक्षा में लगे 8 सुरक्षाकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया.

विपक्ष इस पर गृहमंत्री के सदन में जवाब देने की मांग कर रहा है. शीतकालीन सत्र में संसद सुरक्षा चूक पर विपक्षी सांसदों के हंगामे के बाद लोकसभा के 14 और 1 राज्यसभा सांसद को शेष सत्र के लिए निलंबित कर दिया गया है. वहीं अब इस पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की प्रतिक्रिया आई है.

संसद में सुरक्षा चूक पर बोले राहुल गांधी

पार्लियामेंट सिक्योरिट ब्रीच (संसद की सुरक्षा में चूक) मामले में राहुल गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. मीडिया कर्मियों से बात करते हुए राहुल ने नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने बेरोजगारी को आरोपियों के संसद में घुसने का कारण बताया. राहुल ने कहा कि

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

“सुरक्षा ब्रीच हुई है, लेकिन क्यों हुई?. जो देश में सबसे बड़ा मुद्दा है. बेराजगारी का मुद्दा. जो पूरे देश में उबल रहा है. मोदी जी की पॉलिसीज के कारण हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है. तो सुरक्षा ब्रीच जरूर हुई है, पर इसके पीछे कारण बेरोजगारी है, और महंगाई है.”

गृहमंत्री के पास टीवी शो में जाने का समय, लेकिन संसद में जवाब देने का नहीं- खड़गे

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी पत्रकारों से बात करते हुए इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि “संसद की सुरक्षा में चूक एक गंभीर मामला है. सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए. संसद में बार-बार इस बात की मांग की जा रही है कि गृह मंत्री यहां आकर बताएं कि क्यों हुआ और कैसे हुआ? लेकिन गृह मंत्री संसद में आना ही नहीं चाहते. गृह मंत्री के पास टीवी शो में जाकर घंटों बैठने का समय है, लेकिन उनके पास संसद आने के लिए पांच मिनट का समय नहीं है.”

बता दें कि संसद सुरक्षा चूक मामले में अब तक 6 लोग पकड़े गए हैं. 13 दिसंबर को 4 आरोपियों को पकड़ा गया था. वहीं पुलिस ने बताया है कि आरोपियों ने संसद के आसपास के इलाके की जानकारी जुटा यह पूरी प्लानिंग की थी. साथ ही जांच एजेंसी ने यह भी बताया कि आरोपियों ने संसद के बाहर आत्मदाह करने की भी योजना बनाई थी.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT