पंजाब में कांग्रेस-आप का भांगड़ा देखेगी बीजेपी, लेटेस्ट सर्वे में आए चौंकाने वाले आंकड़े

रूपक प्रियदर्शी

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Opinion Poll of Punjab: बीजेपी ने जब से अपने लिए 370 और NDA के लिए 400 सीटों का नारा लगाना शुरू किया है, ये सवाल उठ रहा है कि बीजेपी अपना ये टारगेट पूरा करेगी कैसे. गुजरात, एमपी, राजस्थान, कर्नाटक जैसे राज्यों में बीजेपी 2019 में ही पीक पर थी. और ज्यादा सीटें मिलेंगी कहां से. उत्तर भारत में पंजाब ऐसा एक राज्य है जहां बीजेपी की दाल गलने का चांस नहीं बन रहा है. एबीपी न्यूज-सी वोटर ने ओपिनियन पोल में अनुमान लगाया है कि पंजाब में केजरीवाल और कांग्रेस एक-दूसरे से लड़ेंगे भी, जीतेंगे. कांग्रेस-आप की आपसी लड़ाई का भी फायदा नहीं लेती नहीं दिख रही है बीजेपी. 

कांग्रेस और आप ने भी सहमति से फॉर्मूला बनाया कि, सारे देश में एक साथ एक गठबंधन में लड़ेंगे लेकिन पंजाब में अकेले रहेंगे. एबीपी न्यूज-सी वोटर के सर्वे के मुताबिक इससे किसी को नुकसान नहीं हो रहा है. पंजाब की 13 में से कांग्रेस को 5 सीटें मिल सकती हैं. आम आदमी पार्टी को 6 सीटें मिल सकती हैं. बीजेपी और अकाली दल को एक-एक सीटों का नुकसान होगा. कांग्रेस को 3 सीटों का नुकसान और आप को 5 सीटों को फायदा हो रहा है. बीजेपी जो 2 सीटें जीतती रही वो घटकर एक रह जाएगी. 

पंजाब का ओपिनियन पोल 

अगला खतनाक सिग्नल ये है कि जब अनुमानों में कांग्रेस का प्रदर्शन खराब दिख रहा है तब भी पंजाब में सबसे ज्यादा 30 परसेंट वोट शेयर कांग्रेस के हिस्से में जा सकता है. आप को 27 परसेंट, अकाली दल को 17 और बीजेपी को सिर्फ 16 परसेंट वोट मिलने का अनुमान है. मतलब पंजाब को मोदी की गारंटी पर भरोसा है, न 370 या 400 जैसे बड़े-बड़े नंबरों पर.

2022 के विधानसभा चुनाव में AAP ने मारा था सिक्सर 

पंजाब के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी जबर्दस्त सिक्सर लगाया था. बीजेपी, कांग्रेस, अकाली को पीछे छोड़कर 117 में से 92 सीटें जीतकर भगवंत मान की सरकार बनाई थी. 2022 के नतीजे को दोहराने के लिए ही केजरीवाल और भगवंत मान ने 8 में से 5 उम्मीदवार ऐसे उतारे हैं जो विधानसभा चुनाव जीते थे और फिलहाल मान सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

बीजेपी भी जुटी है खेल करने में 

पंजाब में जमीन मजबूत करने के लिए बीजेपी ने भी बड़ा हाथ मारा है. पटियाला से कांग्रेस सांसद परणीत कौर बीजेपी में शामिल हो गई हैं. परणीत कौर के पति और कांग्रेस के सबसे बड़े नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह पहले से बीजेपी में हैं. कैप्टन अमरिंदर सिंह को बीजेपी ने आज तक कोई रोल नहीं दिया. अमरिंदर सिंह के चक्कर में परणीत कौर पर भी कांग्रेस हाईकमान ने पार्टी विरोधी काम करने पर सस्पेंड किया हुआ था. परणीत कौर को बीजेपी असेट माने या न माने, कांग्रेस तो कोई झटका नहीं मानेगी. वैसे बीजेपी जाते हुए भी परणीत कौर ने कांग्रेस के खिलाफ कुछ बोलने से बचीं.

पंजाब में बीजेपी धाकड़ चेहरे की तलाश मे है. गुरदासपुर सीट से कई चुनाव जीतने वाले विनोद खन्ना रहे नहीं. 2019 में चुनाव लड़ने वाले सनी देओल 2024 का चुनाव लड़ेंगे नहीं. चर्चा शुरू हुई कि पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह पंजाब में गुरदासपुर या किसी सीट से उम्मीदवार हो सकते हैं लेकिन मामला कहीं आगे बढ़ा नहीं. 

बीजेपी-अकाली दल में नहीं बनी बात 

पंजाब में बीजेपी का सबसे पुराना अलायंस था शिरोमणि अकाली दल. किसान कानून के विरोध में अकाली दल ने बीजेपी का साथ छोड़ा था. बीजेपी से घर वापसी का सिग्नल पाने के बाद भी अकाली दल बीजेपी के साथ आने को तैयार नहीं है. ये अनुमान लगाते हुए भी चुनाव में अकाली दल का भी कुछ खास होने वाला नहीं है. 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT