जब 2024 में लागू ही नहीं होगा महिला आरक्षण बिल, तो BJP को कैसे फायदा? जवाब महिला वोटर्स में छिपा है.

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

Modi BJP Office
Modi BJP Office
social share
google news

महिलाओं को लोकसभा और विधानसभाओं में 33 फीसदी रिजर्वेशन देने का महिला आरक्षण बिल पास तो हो गया पर जनगणना, परिसीमन के बिना लागू नहीं होगा. एक्सपर्ट्स मानते हैं कि इसमें 2029 या इससे भी लंबा वक्त लग सकता है. जब बिल 2024 में लागू ही नहीं होगा तो BJP को क्या फायदा मिलेगा? जवाब BJP के पक्ष में महिला वोटर्स की गोलबंदी में छिपा है.

आंकड़े बताते हैं कि महिला वोटर्स में बीजेपी की है मजबूत पैठ

– दिल्ली बेस्ड थिंकटैंक CSDS-लोकनीति और ऐक्सिस माय इंडिया का सर्वे यह बताता है कि जहां बीजेपी सरकार बना रही है, वहां के चुनावों में महिलाओं के वोटिंग प्रतिशत में लगातार वृद्धि हुई है. यह 2-4 % तक है और महिलाओं के वोट का बड़ा हिस्सा बीजेपी को जा रहा है.

– सर्वे के मुताबिक 2022 के UP विधानसभा चुनावों में बीजेपी को समाजवादी पार्टी की तुलना में 13 फीसदी अधिक महिला वोट मिले थे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

– आकड़े ये भी दिखाते है कि 2020 के बिहार और 2021 के असम चुनावों में भी महिलाओं के वोट का ज्यादा हिस्सा बीजेपी को मिला था.

– 2019 के चुनावों में केंद्र की गैस सिलेंडर देने की उज्ज्वला योजना का फायदा भी बीजेपी को मिला था. सर्वे इस ओर भी इशारा कर रहे हैं कि फ्री राशन स्कीम भी महिलाओं के बीच लोकप्रिय है.

ADVERTISEMENT

– ऐसे में बीजेपी एक बार फिर महिला आरक्षण बिल के जरिए अपने इस वोट बैंक को और मजबूत बनाना चाहती हैं. 2024 के चुनावों में महिला वोटर्स बीजेपी के लिए ट्रंप कार्ड साबित हो सकती हैं.

ADVERTISEMENT

 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT