‘डोनेट फॉर देश’: कांग्रेस अब क्राउड फंडिंग से जुटाएगी चंदा, पार्टी के पास कितना पैसा?

देवराज गौर

ADVERTISEMENT

kc venugopal
kc venugopal
social share
google news

NewsTak: लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस पार्टी ने फंड जुटाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है. इसके लिए पार्टी क्राउड फंडिग मुहिम की शुरुआत करने जा रही है. पार्टी ने इस मुहिम का नाम ‘डोनेट फॉर देश’ रखा है. 18 दिसंबर को दिल्ली से इसकी शुरुआत की जाएगी. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे इस कैंपेन को लॉन्च करेंगे. कांग्रेस की स्थापना 28 दिसंबर 1885 को हुई थी.

पार्टी के 138 साल पूरे होने के मौके पर पार्टी कार्यकर्ताओं और सदस्यों से 138 के मल्टीपल में चंदा लिया जाएगा. यानी 138, 1380, 13800 रुपए… चंदा इकठ्ठा करने की योजना है. चंदा इकठ्ठा करने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन व्यवस्था की जाएगी. पहले चरण की क्राउड फंडिंग पार्टी के स्थापना दिवस यानी 28 दिसंबर तक चलेगी. उसके बाद ऑफलाइन और डोर-टू-डोर कैंपेन शुरू किया जाएगा.

महात्मा गांधी की तिलक फंडिस से प्रेरित है कांग्रेस की क्राउड फंडिग

पार्टी महासचिव और राज्यसभा सांसद केसी वेणुगोपाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि यह क्राउड फंडिग लॉन्च करते समय हमें गर्व की अनुभूति हो रही है. उन्होंने कहा कि ये इनिशियेटिव महात्मा गांधी के ऐतिहासिक तिलक फंडिंग से प्रेरित है जो उन्होंने 1921 में चालू किया था. इसका उद्देश्य एक श्रेष्ठ भारत बनाने में पार्टी को सशक्त करना है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

 

क्राउड फंडिग के जरिए चंदा इकठ्ठा करने के लिए ऑनलाइन पोर्टल donateinc.in और पार्टी की ऑफिशियल वेबसाइट www.inc.in पर विकल्प मुहैया कराया जाएगा. राज्यों के पार्टी प्रमुखों और पदाधिकारियों को इसके प्रचार-प्रसार करने की जिम्मदारी दी गई है.

2019 के लोकसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी (AAP) ने भी क्राउड फंडिग के जरिए पैसे जुटाए थे. पार्टी ने चंदा इकठ्ठा करने के लिए ourdemocracy.in पोर्टल लॉन्च किया था.

ADVERTISEMENT

किस पार्टी के पास कितना पैसा

इसी साल सितंबर महीने में आई एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) की रिपोर्ट में बताया गया था कि किस पार्टी के खजाने में कितना पैसा जमा है. ADR की रिपोर्ट में बताया गया था कि साल 2021 के मुकाबले राष्ट्रीय पार्टियों के खाते में 1532 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हुई है. 2021 में यह 7,297 करोड़ रुपए था जो 2022 में बढ़कर 8,829 करोड़ रुपए हो गया था.

ADVERTISEMENT

ये 8 राष्ट्रीय पार्टियां हैं- बीजेपी, कांग्रेस, राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP), बहुजन समाज पार्टी (BSP), कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPI), CPI-M, तृणमूल कांग्रेस, नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) हैं. सबसे ज्यादा बढ़ोतरी बीजेपी के खाते में देखने को मिली थी. BSP के खाते में उल्टा बढ़ने के बजाय उनके खाते में जमा राशि में कमी आई थी.

ADR की रिपोर्ट के मुताबिक 2021-2022 में बीजेपी के पास कुल 6,046 करोड़ तो कांग्रेस के पास केवल 805 करोड़ रुपए हैं. CPI-M के पास 735 करोड़, BSP के पास 690 करोड़, तृणमूल कांग्रेस के पास 458, NCP के पास 74, CPI के पास 15 करोड़ और NPP के पास केवल 1.8 करोड़ की संपत्ति है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT