भारत सरकार को RBI से मिलेगा 1 लाख करोड़ का डिविडेंड! जानिए क्या होता है ये और बैंक क्यों देता है सरकार को पैसा? 

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

RBI Dividend: भारत सरकार के खजाने में भारी-भरकम पैसे आने वाले है. और ये पैसे और कही से नहीं बल्कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से सरकार को मिलने वाले है. इकॉनोमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, RBI मई के अंत में भारत सरकार को एक लाख करोड़ रुपये का डिविडेंड देने का ऐलान कर सकती है. वैसे ये पहली बार नहीं है जब RBI सरकार को पैसे दे रही हो. इससे पहले भी RBI कई बार लाखों करोड़ों रुपये भारत सरकार को दे चुकी है. इन सब के बीच हमारे मन में एक बात आती हैं कि, आखिर RBI सरकार को पैसे क्यों देती है? आइए हम आपको बताते हैं हाल के सालों में केन्द्रीय बैंक ने सरकार को कितने पैसे दिए है और इसके पीछे की वजह क्या है?

पहले जानिए क्या होता है डिविडेंड?

कंपनियां अपने प्रॉफिट में से समय-समय पर शेयरहोल्डर्स को उसका कुछ हिस्सा देती है. मुनाफे का यह हिस्सा वे शेयरहोल्डर्स को डिविडेंड के रूप में देती है. इसी तरह RBI भी अपने मुनाफे के हिस्से में से कुछ हिस्सा सरकार को देती है जिसे डिविडेंड कहते है. 

आखिर सरकार को पैसा क्यों देती है RBI?

हमारे मन में ये बात उठ रही है कि, RBI सरकार को पैसा क्यों देती है? इस सवाल का जवाब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया एक्ट 1934 के चैप्टर 4 की धारा 47 में है. इस धारा के मुताबिक, केंद्रीय बैंक को अपने मुनाफे में से सरप्लस अमाउंट को केंद्र सरकार को भेजना जरूरी है. यही वजह है कि, RBI भी अपने मुनाफे का कुछ हिस्सा सरकार को देती है. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

RBI ने इससे पहले कितना दिया है डिविडेंड?

RBI करीब प्रत्येक वर्ष भारत सरकार को डिविडेंड के तौर पर पैसे देता है. जैसे वित्तीय वर्ष 2019-20 में करीब 57 हजार करोड़, 2020-21 में 99 हजार करोड़, 2021-22 में 30.3 हजार करोड़, 2022-23 में 87.4 हजार करोड़ रुपये की धनराशि RBI ने भारत सरकार को दी है.  सरकार के लोन मैनेजर के रूप में कार्य करने वाला RBI मई के अंत में अपने सरप्लस अमाउंट को सरकार को ट्रांसफर करता है. 

वैसे यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य आर्थिक सलाहकार कनिका पसरीचा ने बताया कि, हम उम्मीद करते हैं कि RBI ने वित्त वर्ष 24-25 में सरकार को 1,000 अरब रुपये यानी 1 लाख करोड़ रुपये का सरप्लस फंड हस्तांतरित करेगा. उम्मीद जताई जा रही है कि, RBI मई के अंत तक धन राशि हस्तांतरण करने की घोषणा कर सकता है.

अब जानिए RBI कैसे कमाती है?

RBI की कमाई के कई स्रोत है. केन्द्रीय बैंक सरकारी बॉन्ड के जरिए ब्याज कमाता है, विदेशी मुद्रा में निवेश के जरिए उसकी आय होती है. इसके साथ ही सरकार बाजार में लगाने के लिए RBI से जो पैसा लेती है, उससे भी RBI कमाई करता है. बैंक को सहयोगियों से मिलने वाले रिटर्न से भी मुनाफा होता है. 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT