शिवसेना, NCP टूटने के बावजूद महाराष्ट्र की 48 सीटों के सर्वे में BJP-NDA पर भारी दिख रहा INDIA

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Lok Sabha Election 2024: भारतीय जनता पार्टी को आगामी लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में शिवसेना और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP), दोनों में ही टूट का फायदा मिलेगा, इसके आसार नजर नहीं आ रहे हैं. कम से कम इंडिया टुडे और सी-वोटर का लेटेस्ट मूड ऑफ द नेशन सर्वे के आंकड़े तो यही इशारे कर रहे हैं. यहां कांग्रेस के साथ मौजूद शिवसेना का उद्धव गुट और एनसीपी का शरद पवार गुट बीजेपी-एनडीए पर भारी नजर आ रहा है.

महाराष्ट्र में पिछले एक-दो साल में कई बड़े सियासी उलटफेर देखने को मिले हैं. इसकी ताजा बानगी महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(NCP) के सुप्रीमो शरद पवार से उनकी ही बनाई गई पार्टी और सिंबल का छिनना है. शरद पवार के भतीजे अजीत पवार पिछले साल पार्टी से बगावत करते हुए बीजेपी के साथ मिलकर सरकार में शामिल हो गए और अब चुनाव आयोग के फैसले से NCP पर भी उनका अधिकार हो गया. इससे पहले उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना में भी फूट हुई थी जिसमे उद्धव को भी अपने पिता बाला साहेब ठाकरे की बनाई गई पार्टी से बेदखल कर दिया गया. इन सबके बाद भी लोकसभा चुनाव 2024 में कांग्रेस, शिवसेना UBT और शरद पवार के गठबंधन से बनी महाविकास अघाड़ी बीजेपी के गठबंधन पर भारी पड़ती नजर आ रही है.

इंडिया टुडे ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अपने सर्वे में देश का मिजाज जानने की कोशिश है. यह सर्वे पूरे देश में 15 दिसंबर 2023 से 28 जनवरी 2024 के बीच किया गया है. इस सर्वेक्षण का सैंपल साइज 149092 है. इस सर्वे में देश की सभी 543 लोकसभा सीटें कवर की गई है, जिसमें महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटें भी शामिल हैं. सर्वे के मुताबिक महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस का अलायंस, बीजेपी के गठबंधन पर भारी पड़ता दिख रहा है. महाराष्ट्र में कांग्रेस के नेतृत्व में महाविकास अघाड़ी को 26 सीटें, तो बीजेपी के गठबंधन को 22 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है. महाविकास अघाड़ी की सीटों में कांग्रेस को 12 और शिवसेना (उद्धव)-एनसीपी (शरद पवार) को 14 सीटें मिल रही हैं. वोट शेयर की बात करें तो कांग्रेस+ को 44 फीसदी वोट और बीजेपी+ को 40 फीसदी वोट मिलता नजर आ रहा है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

2019 के चुनाव के ये थे परिणाम

2019 में महाराष्ट्र में हुए लोकसभा चुनाव की बात करें, तो बीजेपी ने प्रदेश की 48 सीटों में से सर्वाधिक 23 सीटें जीती थीं. वहीं शिवसेना को 18, एनसीपी को 4 और कांग्रेस को सिर्फ एक सीट मिली थी. वोट शेयर की बात की जाए, तो बीजेपी का वोट शेयर 27.8 फीसदी रहा था, जबकि शिवसेना 23.5 फीसदी वोट शेयर के साथ दूसरे नंबर पर रही थी. एनसीपी का वोट शेयर 15.7 फीसदी और कांग्रेस का 16.4 फीसदी रहा था. आपको बता दें कि 2019 में बीजेपी और शिवसेना NDA गठबंधन के तहत एकसाथ चुनाव लड़े थे. कांग्रेस और एनसीपी दोनों पार्टियां UPA गठबंधन में साथ थीं.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT