शक्ति शब्द पर हुआ विवाद तो इसका मतलब समझा राहुल गांधी ने बोलीं और तीखी बातें, PM पर अब ये कहा

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Rahul Gandhi News: मुंबई में बीते दिन हुई विपक्षी दलों के गठबंधन INDIA की मेगा रैली में राहुल गांधी ने ऐसी बात कह दी जिसे लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी हुई है. रैली के वीडियो में राहुल गांधी हिंदू धर्म में 'शक्ति' शब्द को लेकर बात करते नजर आ रहे हैं. राहुल गांधी ने हिंदू धर्म के 'शक्ति' शब्द का जिक्र करते हुए कहा कि, मैं किसी पार्टी से नहीं बल्कि एक शक्ति से लड़ रहा हूं. राहुल के इस बयान पर पीएम मोदी ने पलटवार करते हुए कहा हैं कि, मैं इस चुनौती को स्वीकार करता हूं और मैं इस शक्ति से देशभर की माताओं-बहनों की रक्षा के लिए जान की बाजी लगा दूंगा. बीजेपी भी राहुल के इस बयान पर हमलावर हो गई है और पार्टी ने राहुल के बयान को सनातन धर्म का अपमान बताया है. हालांकि विवाद होने पर राहुल गांधी ने अपने बयान को लेकर एक्स पर ट्वीट करते हुए अपने बयान का मतलब तो बताया ही साथ ही पीएम मोदी पर तीखा वार भी किया. आइए आपको बताते हैं क्या कहा राहुल गांधी ने जिसपर छिड़ गया है विवाद. 

'व्यक्ति या पार्टी नहीं बल्कि हिंदू धर्म की 'शक्ति' से लड़ रहा हूं मैं'

राहुल गांधी रैली में कहते हैं, हम लोग यहां उपस्थित सभी राजनीतिक दल न एक दल के खिलाफ लड़ रहे हैं या न किसी एक व्यक्ति के खिलाफ लड़ रहे हैं. हिंदू धर्म में 'शक्ति' शब्द होता है हम एक शक्ति से लड़ रहे हैं. सवाल उठता है कि, वह शक्ति क्या है. जैसे यहां किसी ने कहां राजा की आत्मा EVM में है, हिंदुस्तान की हर संस्था में ED, CBI मे हैं. 

राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के एक नेता का किस्सा भी शेयर किया जिसमें उन्होंने नाम न लेते हुए कहा कि, 'एक वरिष्ठ नेता कांग्रेस को छोड़ते हैं और मेरी मां से रो के कहते हैं कि सोनिया जी मुझे शर्म आ रही है. मेरे में इन लोगों से इस शक्ति से लड़ने की हिम्मत नहीं है. ये एक नहीं हैं, ऐसे हजारों लोग डराए गए हैं. जिस शक्ति की मैं बात कर रहा हूं, उन्होंने इनका गला पकड़कर बीजेपी की ओर किया है. राहुल गांधी अगर इतना कहते हैं कि, राजा की शक्ति इनका गला पकड़कर जबरदस्ती बीजेपी में मिला रही है. 

अपने बयान पर राहुल ने जारी किया स्पष्टीकरण 

राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मोदी जी को मेरी बातें अच्छी नहीं लगतीं, किसी न किसी तरह उन्हें घुमाकर वह उनका अर्थ हमेशा बदलने की कोशिश करते हैं क्योंकि वह जानते हैं कि मैंने एक गहरी सच्चाई बोली है. जिस शक्ति का मैंने उल्लेख किया, जिस शक्ति से हम लड़ रहे हैं, उस शक्ति का मुखौटा मोदी जी हैं. वह एक ऐसी शक्ति है जिसने आज, भारत की आवाज़ को, भारत की संस्थाओं को, CBI, IT, ED को, चुनाव आयोग को, मीडिया को, भारत के उद्योग जगत को, और भारत के समूचे संवैधानिक ढाँचे को ही अपने चंगुल में दबोच लिया है.'

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पीएम मोदी ने किया पलटवार 

पीएम मोदी ने राहुल गांधी के 'शक्ति' वाले बयान का जवाब तेलंगाना की एक जनसभा में दिया. पीएम ने कहा कि, 'इंडी गठबंधन ने अपना घोषणा पत्र जारी किया है. उन्होंने कहा है कि उनकी लड़ाई शक्ति के खिलाफ है. मेरे लिए हर मां शक्ति का रूप है, हर बेटी शक्ति का रूप है. मांताओं-बहनों, आपको मैं शक्ति के रूप में पूजा करता हूं. मैं भारत मां का पुजारी हूं. मैं आप शक्ति स्वरूपा माता, बहन, बेटियों का भी पुजारी हूं.' उन्होंने आगे कहा, 'इंडी अलायंस ने कल शिवाजी पार्क से जारी अपने घोषणा पत्र में शक्ति को खत्म करने का ऐलान किया है. मैं इस चुनौती को स्वीकार करता हूं और मैं इन शक्ति स्वरूपा माताओं-बहनों की रक्षा के लिए जान की बाजी लगा दूंगा. 

ADVERTISEMENT

 

ADVERTISEMENT

follow on google news
follow on whatsapp

ADVERTISEMENT