क्या ED की गिरफ्तारी से बचने के लिए गायब हैं झारखंड सीएम हेमंत सोरेन, जानिए क्या है मामला

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Hemant Soren: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर इंफोर्समेंट डायरेक्ट्रेट (ED) की दबिश जारी है. कल यानी 29 जनवरी को दिल्ली स्थित सोरेन के आवास 5/1 शांति निकेतन पर ED ने सुबह सात बजे से ही छापेमारी की, तब सोरेन अपने आवास से नदारद थे. ED ढूंढती रही पर सीएम सोरेन नहीं मिले. करीब 13 घंटों की जांच के बाद ED शाम को उनके आवास से तो चली गई. लेकिन अपने साथ सोरेन के घर से कुछ कागजात और हरियाणा नंबर की एक बीएमडब्ल्यू कार भी ले गई.

सोशल मीडिया पर कल से ही ये खबर वायरल है कि, झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ‘लापता’ हैं. जांच एजेंसी ED के अधिकारियों ने भी दावा किया कि, उनका हेमंत सोरेन से संपर्क नहीं हो पा रहा है.

सोरेन ने ईमेल कर बताई थी पूछताछ के लिए डेट

ED के इस कार्यवाई के बाद अब ये जानकारी भी सामने आ रही है कि, ED के 10वें समन जारी होने के बाद सीएम सोरेन ने ED को एक मेल किया था. मेल में उन्होंने ED को उनसे पूछ-ताछ के लिए 31 जनवरी को उपलब्ध रहने की बात कही थी. बताया जा रहा है कि, हेमंत सोरेन इसी सिलसिले में 27 जनवरी को झारखंड से दिल्ली आए थे. हालांकि अब वो एक तरह से लापता है क्योंकि वो कहा हैं इसकी जानकारी न ED को है न किसी और को. सोरेन के गायब होने के पीछे की वजह ये बताई जा रही है कि, वो ED की गिरफ्तारी से बचने के लिए ऐसा कर रहे है.

क्या है सोरेन पर मामला जिसका ED कर रही जांच

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर जमीन घोटाला और मनी लॉन्ड्रिंग का मामला है. जानकारी के मुताबिक सोरेन रांची में 4.55 एकड़ आर्मी की जमीन को गलत तरीके से खरीद-फरोख्त के मामले में ED की जांच के घेरे में हैं. सोरेन पर ये मामला 2022 से ही चल रहा है. ED  उनपर मनी लॉन्ड्रिंग निवारण अधिनियम (PMLA) के तहत केस दर्ज कर जांच कर रही है. इस मामले में सोरेन को 14 अगस्त 2023 को पहला समन जारी किया गया था, उसके बाद से 10 समन जारी किये जा चुके है. इन समनों के बाद भी सोरेन ED के सामने पेश नहीं हुए. इन सब के बाद अब ED ने उनपर दबिश दी है. सीएम हेमंत सोरेन पर अपने और पत्नी के नाम पर खनन का पट्टा अलॉट कराने का भी आरोप है.

यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT