कांग्रेस और INDIA इन दोनों राज्यों में करेगी क्लीन स्वीप, लेटेस्ट सर्वे में BJP-NDA को जीरो सीटें

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Tamilnadu Opinion Poll: लोकसभा चुनाव 2024 में बीजेपी को सबसे बड़ी चिंता सता रही है तो वो है दक्षिण भारत के राज्यों की. देश के दक्षिणी राज्य केरल, तमिलनाडु, आंध्रा, तेलंगाना और कर्नाटक ये वो राज्य है बीजेपी के गले की फांस बने हुए है. कर्नाटक में तो पिछले चुनाव में बीजेपी ने लगभग क्लीन स्वीप किया था लेकिन इस बार प्रदेश के डिप्टी सीएम डीके शिवकुमार बीजेपी के विजय रथ को रोकने की ठान चुके हैं. ऐसे ही केरल और तमिलनाडु है जहां बीजेपी अपना खाता खोलने के लिए संघर्ष कर रही है. हालांकि चुनाव पूर्व आए ओपिनियन पोल में तो ऐसा होता दिख नहीं रहा है. आइए आपको बताते हैं क्या है केरल और तमिलनाडु के ओपिनियन पोल के अनुमान. 

केरल और तमिलनाडु के लिए आए लेटेस्ट तीन ओपिनियन पोल की बात करें, तो दोनों राज्यों के तीनों ओपिनियन पोल में राज्य के सभी सीटों पर कांग्रेस-INDIA का कब्जा होता नजर आ रहा है वहीं बीजेपी-NDA का सूपड़ा साफ होता दिख रहा है. 

तमिलनाडु की सभी सीटों पर INDIA मारेगा बाजी 

तमिलनाडु के लिए आए लोक पोल के फाइनल ओपिनियन पोल के मुताबिक, प्रदेश में INDIA को बड़ी जीत मिलने जा रही है. राज्य की सभी 39 सीटों पर कांग्रेस का INDIA अलायंस क्लीन स्वीप करता नजर आ रहा है. इस सर्वे में बीजेपी, AIADMK और अन्य को एक भी सीट भी नहीं मिलने का अनुमान है. वहीं वोट शेयर की बात करें तो सर्वे में आए आंकड़ों के मुताबिक, विपक्षी गठबंधन INDIA को सर्वाधिक 52 फीसदी वोट तो वहीं बीजेपी के NDA को 19 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. 

2019 के आम चुनावों में तमिलनाडु में कांग्रेस के लिए नतीजे राहत भरे थे. इस चुनाव में कांग्रेस ने तमिलनाडु में 8 सीटें लड़कर सभी 8 सीटें और DMK ने 24 सीटें लड़कर सभी 24 सीटें जीती थी. तमिलनाडु की बाकी पार्टियों के साथ मिलकर कांग्रेस के संयुक्त प्रोग्रेसिव अलायंस(UPA) ने प्रदेश की 39 में से 38 सीटें जीती थी. 

केरल में कांग्रेस-UDF बरकरार रखेगा अपना प्रदर्शन 

केरल की 20 सीटों के लिए आए लोक पोल के फाइनल ओपिनियन पोल के मुताबिक, प्रदेश में एकबार फिर से कांग्रेस-UDF का जलवा बरकरार रहेगा. सर्वे से आए आंकड़ों के मुताबिक, प्रदेश के 18 से 20 सीटों पर कांग्रेस-UDF को जीत मिलने की संभावना है, वहीं लेफ्ट पार्टियों के गठबंधन LDF को 0 से 2 सीटों का नुमायान है. इसके साथ ही केरल में एकबार फिर से बीजेपी को बिना किसी सीटों के ही संतोष करना पड़ सकता है. 

यह भी पढ़ें...

केरल के पिछले चुनाव की बात करें तो प्रदेश की 20 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस के अलायंस UDF को 19 सीटों पर जीत मिली थी, वहीं LDF को सिर्फ एक सीट मिली थी. UDF को मिली 19 सीटों में से कांग्रेस को 15 सीटें, IUML को दो सीटें RSP और KEC(M) को एक-एक सीट मिली थे. 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT