इलेक्शन कमिशन कल करेगा चुनाव की तारीखों का ऐलान, मई के अंत तक नतीजे आने के अनुमान 

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

The Election Commission will announce Lok Sabha 2024 dates on March 16.
lok sabha elections dates
social share
google news

Lok Sabha Election: 15 मार्च यानी आज दो नए निर्वाचन आयुक्तों की नयुक्ति के बाद देश में लोकसभा चुनाव की घोषणा की तारीख तय हो गई है. इलेक्शन कमिशन के दी गई जानकारी के मुताबिक, 16 मार्च यानी कल 3 बजे चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुनाव का पूरा विवरण जारी करेगा. वैसे माना ये जा रहा है कि, 10 अप्रैल से 21 मई के बीच देश में मतदान के सभी चरण पूरे कर लिए जाएंगे. साथ ही मतगणना 25 -27 मई तक हो सकती है. आयोग के सूत्रों के मुताबिक छह से सात चरणों में मतदान कराने की योजना है. देश में लोकसभा के चुनाव के साथ चार राज्यों ओडिशा, आंध्र प्रदेश, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभाओं के चुनाव भी होंगे. वैसे संभावना ये भी है कि, वर्तमान में केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में भी विधानसभा के चुनाव कराए जा सकते है.  

देश भर में चुनावी तैयारियों का लिया जायजा

निर्वाचन आयोग ने चुनावी तैयारियों का जायजा लेने के सिलसिले में तमिलनाडु केरल से अपना दौरा शुरू किया था. तब मुख्य निर्वाचन आयुक्त के साथ तत्कालीन दोनों आयुक्त अनूप चंद्र पांडेय और अरुण गोयल भी थे. फिर 14 फरवरी के बाद हुए दौरे में अनूप चंद्र पांडेय रिटायर ही गए थे लिहाजा सिर्फ अरुण गोयल ही पश्चिम बंगाल तक साथ निभाया. फिर मुख्य आयुक्त और आयुक्त के बीच मतभेद बढ़े और पश्चिम बंगाल में आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं दिखे. राज्यों के दौरे का समापन 13 मार्च को जम्मू कश्मीर में हुआ जिसमें मुख्य निर्वाचन आयुक्त अकेले दिखे. इसके बाद निर्वाचन आयुक्त के दो खाली पड़े पदों को भरा गया. और अब चुनावी कार्यक्रम का ऐलान की भी घोषणा हो गई है. 

सात चरणों में हो सकते है चुनाव 

चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक, पिछली बार की भांति ही इस बार भी सात चरणों में लोकसभा और कई विधान सभाओं के चुनाव कराए जा सकते है.  इस बार चुनाव वाली विधानसभाओं को संख्या पिछली बार के मुकाबले बढ़ सकती है. इसी के तहत गृह सचिव और अन्य आला अधिकारियों के साथ बैठक में आयोग ने लोकसभा और चार विधानसभा चुनावों के लिए 3.4 लाख केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के जवानों की उपलब्धता और आवाजाही का अनुरोध किया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

जम्मू-कश्मीर में भी हो सकता है विधानसभा चुनाव 

निर्वाचन आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव के साथ जम्मू कश्मीर में नई परिसीमित विधानसभा चुनावों की संभावना को के तहत प्रदेश में सुरक्षा के संबंध में गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की. गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, पिछले हफ्ते जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने गृह मंत्री अमित शाह से भी अनौपचारिक मुलाकात की थी. केंद्रीय गृह मंत्रालय के आला अधिकारियों और सुरक्षा बलों के प्रमुखों के साथ भी आयोग अपनी बैठक में जम्मू कश्मीर में दोनों चुनाव एक साथ कराने पर विचार कर रहा है.

आगामी चुनाव में 97 करोड़ से ज्यादा मतदाताओं के लिए चुनाव आयोग ने पूरे भारत में लगभग 12.5 लाख मतदान केंद्र स्थापित करने की योजना बनाई है. इस बार एक नया कदम ये उठाया गया है कि, 85 साल से ज्यादा आयु के मतदाताओं को घर बैठे मतदान करने की सुविधा भी होगी जो पहले 80 साल से अधिक आयु के मतदाताओं के लिए थी. 

 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT