अब इस प्लान पर काम कर रहे नीतीश कुमार, उधर तेजस्वी ने भी कर ली अपनी तैयारी

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Bihar Political Crisis: बिहार में बीते 24 तारीख से चल रहे सियासी उथल-पुथल के बीच आज कुछ बड़ा होने जा रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बिहार सीएम नीतीश कुमार आज अपने पद से इस्तीफा दें सकते हैं. खबर ये भी है कि,नीतीश अपने इस्तीफे के बाद कांग्रेस के 10 विधायकों को लेकर बीजेपी के NDA गठबंधन में शामिल हो सकते है. यानी INDIA अलायंस और महागठबंधन से जाते-जाते नीतीश कुमार कांग्रेस को बड़ी चोट पहुंचाने वाले है.

नीतीश पिछले कुछ दिनों से बगावती तेवर अख्तियार किए हुए हैं. एक तरफ तो वो परिवारवाद की पॉलिटिक्स पर हमला बोल रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी और पीएम मोदी की तारीफो के पुल बाध रहे है. कर्पूरी ठाकुर से शुरू हुए विवाद ने, नीतीश कुमार के जनता दल यूनाइटेड और लालू यादव के राष्ट्रीय जनता दल के सहयोग से बनी बिहार सरकार को हाशिए पर लाकर खड़ा कर दिया है. अब सिचूऐशन ये है कि किसी भी वक्त प्रदेश में सरकार बदले की खबर आ सकती है.

बीजेपी के दो डिप्टी सीएम और नीतीश बनेंगे सीएम!

बताया जा रहा है कि, सीएम नीतीश ने बीजेपी के साथ प्रदेश में नई सरकार के लिए अपनी प्लानिंग कर ली है. इसी के तहत वो आज अपने पद से इस्तीफा भी दे सकते हैं. वहीं कल यानी 28 जनवरी को नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह होने की भी खबर है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बीजेपी ने नीतीश कुमार के सामने अपनी पार्टी से दो डिप्टी सीएम और विधानसभा अध्यक्ष के बनाए जाने की मांग की है और नीतीश कुमार इसपर सहमत भी हो गए हैं. अब बस बीजेपी की तरफ से नीतीश को अपना समर्थन लेटर दिया जाना ही बाकी है.

उधर तेजस्वी कर रहें ‘मिशन 16’ की तैयारी

नीतीश कुमार के साथ छोड़ कर बीजेपी के साथ जाने पर राजद सुप्रीमो लालू यादव और बेटे तेजस्वी यादव को गहरा आघात पहुंचा हैं. सूत्रों का कहना है कि, तेजस्वी ये चाहते हैं कि नीतीश कुमार किसी भी हालत में फिर से सरकार न बना पाए. इसके लिए वो अपने खास ‘मिशन 16’ पर काम कर रहे है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

5 फरवरी से शुरू हो रहे बिहार विधानसभा के सत्र में नीतीश कुमार अपनी नई सरकार का विश्वास प्रस्ताव लाएंगे. राजद का प्लान ये है कि, उसी दौरान जेडीयू के कुछ विधायकों को अनुपस्थित करा दें या फिर इस्तीफा दिलवा दें. दरअसल बिहार विधानसभा में 243 सीटें है और बहुमत का आंकड़ा 122 है. नीतीश के साथ छोड़ने के बाद महागठबंधन के पास केवल 114 सीटें ही बच रही है. यही वजह है कि तेजस्वी ‘मिशन 16’ पर काम कर रहे है. इससे होगा ये कि, विधानसभा 227 सीटों पर आ जाएगी, जिसका बहुमत का आंकड़ा 114 होगा. तब तेजस्वी सदन में अपना बहुमत साबित करने में सफल हो जाएंगे.

हालांकि राजद का ये प्लान इतना भी आसान नहीं लगता क्योंकि बीजेपी भी जोड़-तोड़ की सियासत में कम माहिर नहीं है. अब देखना ये होगा की बिहार की इस सियासी भंवर में कौन बाजी मारता है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT