क्या NCERT की किताबों में अब INDIA नहीं सिर्फ भारत पढ़ने को मिलेगा?

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

NCERT News India Alliance
NCERT News India Alliance
social share
google news

INDIA vs भारत विवाद: क्या आने वाले समय में राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (NCERT) की किताबों में इंडिया की जगह सिर्फ भारत पढ़ने को मिलेगा? NCERT की एक उच्च स्तरीय कमेटी की सिफारिशें सामने आने के बाद यह चर्चा तेज हो गई है. इस कमेटी ने सभी क्लास की किताबों में इंडिया की जगह भारत शब्द के इस्तेमाल की सिफारिश की है. इस कमेटी को स्कूली सिलेबस में संशोधन के लिए बनाया गया है. इसके अध्यक्ष सी.आई. आइजक हैं. वैसे एनसीईआरटी के अधिकारियों ने यह भी कहा कि कमेटी की सिफारिशों पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है, इसलिए इसपर अभी टिप्पणी नहीं की जा सकती.

फिर खड़ा होगा INDIA vs भारत विवाद ?

NCERT किताबों से जुड़ी इस खबर के बाद एक बार फिर INDIA vs भारत की चर्चाएं शुरू हो गईं. इस साल जून में जब कांग्रेस समेत विपक्ष के 28 दलों ने इंडिया गठबंधन (INDIA- इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस) बनाया, तो यह चर्चा तभी शुरू हुई थी. असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा शरमा ने उसी वक्त अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बायो में इंडिया को हटकर भारत लिख दिया था.

फिर इसके बाद हुई G20 की बैठकों में भी ‘रिपब्लिक ऑफ इंडिया’ की बजाय ‘रिपब्लिक ऑफ भारत’ के नाम से सभी दस्तावेज जारी हुए. इसी बीच मोदी सरकार ने 18-22 सितंबर के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाया. तब ये चर्चा होने लगी थी कि क्या सरकार देश का नाम सिर्फ भारत करने की तैयारी में है. पर ऐसा कुछ नहीं हुआ, उस विशेष सत्र में महिला आरक्षण बिल पास कराया गया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

संविधान में क्या लिखा है?

भारत के संविधान के अनुच्छेद 1 में लिखा है, India, that is Bharat, shall be a Union of States. संविधान की हिंदी कॉपी अगर देखें, तो इसमें लिखा है, ‘भारत, अर्थात इंडिया, राज्यों का संघ होगा.’ यानी संविधान में देश का नाम India और भारत, दोनों है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT