बिहार में NDA का सीट शेयरिंग फॉर्म्युला तैयार! चिराग को 4 सीटों का ऑफर, नीतीश को क्या मिला?

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Bihar Seat Sharing: आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सियासत का पारा चढ़ा हुआ है. कांग्रेस की दूसरी लिस्ट के बाद अब बीजेपी उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट के आने के कयास भी लगाए जा रहे है. इसी बीच बिहार में बीजेपी के गठबंधन NDA में सीट शेयरिंग को लेकर जारी सस्पेंस अब खत्म होता नजर या रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बिहार में बीजेपी ने अपने सहयोगी दलों के साथ सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर आज हुई मीटिंग में चिराग पासवान और मंगल पांडेय ने सीटों को लेकर सहमति पर अंतिम मुहर लगाई. वहीं इससे पहले मंगल पांडेय ने पशुपति पारस से भी सीट शेयरिंग को लेकर मुलाकात की थी. आइए आपको बताते हैं बिहार में किसके खाते में जा रही है कितनी सीटें. 

नीतीश को 16 और चिराग को चार सीटें 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, जीतन राम मांझी की पार्टी HAM को एक सीट, उपेन्द्र  कुशवाहा की पार्टी RLM को एक सीट, पशुपति पारस को समस्तीपुर की सीट और चिराग पासवान को हाजीपुर समेत चार सीटें देने पर सहमति बनी है. इसके साथ ही नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू 16 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. यानी बिहार की कुल 40 लोकसभा सीटों में से बीजेपी के 17 सीटों पर चुनाव लड़ने की संभावना है. 

वैसे बिहार में हुए पिछले लोकसभा चुनाव में NDA को 40 में से 39 सीटों पर जीत मिली थी. गठबंधन में बीजेपी के 17, जेडीयू के 16 और अविभाजित लोक जनशक्ति पार्टी के छह उम्मीदवार चुनाव जीते थे.

बिहार में 40 और देश में 400 सीटें जीतेगी NDA: चिराग पासवान

लोक जन शक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद कहा कि, गठबंधन में हमेशा मेरी रक्षा करने के लिए मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देना चाहता हूं. उन्होंने हमेशा राम विलास पासवान को अपना दोस्त माना. आज फिर से हमने अपने पुराने गठबंधन को मजबूत किया है- NDA. आज आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सीटों का बंटवारा हो जाने के बाद मैं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद देना चाहता हूं. आने वाले कुछ दिनों में एलजेपी इसी इरादे से चुनाव लड़ेगी. बिहार में 40 सीटें एनडीए गठबंधन जीतें और देश में 400 सीटों का लक्ष्य हासिल करें.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पशुपति पारस की सीट हाजीपुर को लेकर फंसा था पेच

सूत्रों से मिली जानकारी की माने, तो सीटों के बंटवारें में हाजीपुर सीट को लेकर पेंच फंसा था. दरअसल बीजेपी हाजीपुर की सीट चिराग पासवान को देना चाहती थी. वैसे वर्तमान में हाजीपुर सीट से पशुपति पारस सांसद हैं और वो लंबे समय से ताल ठोक रहे थे कि, हाजीपुर सीट से वही चुनाव लड़ेंगे. वहीं दूसरी तरफ चिराग पासवान भी हाजीपुर सीट से अपना दावा ठोक रहे थे. उनका कहना था कि, वह रामविलास पासवान के राजनैतिक उतराधिकारी हैं, इसलिए गठबंधन में हाजीपुर सीट उन्हें ही मिलनी चाहिए. इस सीट के चक्कर में चाचा-भतीजे के बीच जमकर खींच-तान चल रही थी. 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT