स्विंग स्टेट हरियाणा और कर्नाटक में कौन मार रहा बाजी? देशभर की 543 सीटों में से बीजेपी-कांग्रेस को कितनी सीटें? जानिए 

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Yogendra Yadav: लोकसभा चुनाव अब अपने ढलान पर है. दो फेज कि वोटिंग बची हुई है. 4 जून को मतगणना होनी है. करीब 427 सीटों पर वोटिंग होने के बाद किसे कितनी सीटें मिलने जा रही है इसे लेकर डिबेट चलर ही है. राजनैतिक पंडितों से लेकर चुनाव विश्लेषक सभी अपने-अपने आंकड़े बता रहे है. 2024 का चुनाव NDA vs INDIA का चुनाव है. चुनाव में की स्विंग स्टेट है जो बीजेपी के लिए मुश्किलें बढ़ाते नजर आ रहे है. ऐसे ही दो राज्य कर्नाटक और हरियाणा है. इन राज्यों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच जबरदस्त लड़ाई देखने को मिल रही है. चुनाव के बीच इन्हीं दो राज्यों पर इंडिया टुडे के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई ने राजनैतिक विश्लेषक योगेंद्र यादव से बातचीत की हैं. आइए आपको बताते हैं इन राज्यों को लेकर क्या है योगेंद्र यादव का अनुमान. 

कर्नाटक में 50-50 है मुकाबला 

कर्नाटक में लोकसभा कि 28 सीटें है. पिछले चुनाव में बीजेपी ने 25 सीटों पर एकतरफा जीत दर्ज की थी. हालांकि इस बार के चुनाव का माहौल कुछ अलग लग रहा है. बीजेपी और कांग्रेस दोनों के बीच कड़ी लड़ाई देखने को मिल रही है. कर्नाटक में दो फेज में चुनाव हुए. कर्नाटक चुनाव पर योगेंद्र यादव कहते हैं कि, प्रदेश में पहले फेज में 14 सीटों पर चुनाव हुए मुझे लगता है की, पहले फेज में बीजेपी 8 सीटों पर आगे नजर आ रही है. वहीं दूसरे फेज की 14 सीटों पर कांग्रेस बाजी मारती नजर आ रही है. 

योगेंद्र यादव ने कांग्रेस कि बढ़त के पीछे की वजह कर्नाटक में कांग्रेस सरकार की योजनाओं को बताया जो उन्होंने विधानसभा चुनाव के दौरान घोषित किए थे. इसमें खासतौर पर महिलाओं को टारगेट करने वाली स्कीम प्रमुख भूमिका निभा रही है. चुनाव के बीच जनता दल सेकुलर(JDS) नेता प्रज्वल रेवन्ना का महिलाओं के उत्पीड़न का मामला आया जिसकी वजह से JDS के साथ-साथ बीजेपी की बहुत फजीहत हुई. इन्हीं सब बातों को ध्यान में रहते हुए मेरा अनुमान है कि, इस बार के चुनाव में कर्नाटक में 50-50 होने जा रहा है यानी बीजेपी और कांग्रेस दोनों दलों को 14-14 सीटें मिलती नजर आ रही है. 

हरियाणा में कांग्रेस को बंपर सीटें 

हरियाणा में लोकसभा कि 10 सीटें है. पिछले चुनाव में बीजेपी ने यहां से क्लीन स्वीप किया था. हालांकि 2024 के चुनाव में कांटे कि टक्कर मानी जा रही है. किसान आंदोलन और अग्निवीर स्कीम हरियाणा के चुनाव में प्रमुख मुद्दे है जो बीजेपी के खिलाफ है. पार्टी को इससे अच्छा खासा नुकसान हो सकता है. योगेंद्र यादव ने कहा कि, इन सभी मुद्दों को ध्यान में रखते हुए मेरा अनुमान हैं कि, हरियाणा में कांग्रेस कम से कम 6 सीटें जीतने जा रही है. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

देशभर की 543 लोकसभा सीटों पर किसे कितनी सीटें?

योगेंद्र यादव ने इसका जवाब देते हुए कहा कि, मुझे लगता हैं कि, इस बार के चुनाव में बीजेपी किसी भी हाल में बहुमत का आंकड़ा यानी 272 सीटें पाते नहीं दिख रही है. पार्टी 250 के आसपास सिमट सकती है. वहीं बीजेपी का गठबंधन NDA 272 सीटों के आंकड़ों को पार कर भी सकता है और नहीं भी कर सकता है लेकिन मैं इस बात के लिए श्योर नहीं हूं. 

कांग्रेस को मिलने वाली सीटों को लेकर उन्होंने कहा कि, कांग्रेस को 90 से 100 सीटें मिलती नजर आ रही है. वहीं विपक्षी INDIA अलायंस की अन्य पार्टियां 120 से 125 सीटें पा सकती है. 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT