3 सीट के लिए UP में छूटा कांग्रेस-अखिलेश का साथ! क्या अब सपा भी INDIA गठबंधन का हिस्सा नहीं?

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Bharat Jodo Nyay Yatra in UP: उत्तर प्रदेश से INDIA अलायंस को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आगामी लोकसभा चुनाव में यूपी में कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन नहीं होगा. खबर यह है कि, इन दोनों दलों के बीच मुरादाबाद मंडल की तीन लोकसभा सीटों पर समझौते को लेकर बातचीत फंस रही थी जिसके बाद कल देर रात अब किसी प्रकार के समझौते को लेकर बातचीत का सिलसिला टूट गया. यानी बिहार, पश्चिम बंगाल के बाद अब उत्तर प्रदेश से भी INDIA अलायंस को बड़ा झटका लग गया है. वैसे आपको बता दें कि, इससे पहले राष्ट्रीय जनता दल के जयंत चौधरी ने भी INDIA अलायंस को अलविदा कहा था.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ अभी उत्तर प्रदेश में हैं. यात्रा बनारस, इलाहाबाद, प्रतापगढ़ से होते हुए आज राहुल गांधी के पहले के संसदीय क्षेत्र अमेठी में है. इससे पहले राहुल गांधी की यात्रा में समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव के भी शामिल होने की बात चल रही थी, लेकिन उन्होंने यह कहकर इस बात से इनकार कर दिया था कि, सीटों पर समझौता होने के बाद वो यात्रा में शामिल होंगे. दूसरी तरफ प्रदेश में सपा और कांग्रेस के बीच सीटों के समझौते पर सहमति बनते नजर नहीं आ रही थी. यही वजह रही कि पिछले दिनों सपा ने अपने उम्मीदवारों की एक के बाद दूसरी सूची भी जारी कर दी थी. अब अखिलेश यादव के भी कांग्रेस के समझौता न करने यानी INDIA अलायंस से अलग होने की खबर आ रही है.

हालांकि कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कांग्रेस-सपा गठबंधन के टूटने की चर्चाओं पर कहा कि, ‘सपा के साथ हमारा गठबंधन बरकरार है. सीट बंटवारे पर हम बातचीत के आखिरी चरण में है. आने वाले कुछ दिनों में उसकी घोषणा कर दी जायेगी.’

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी पर कसा तंज

INDIA अलायंस में हो रहे बिखराव पर बीजेपी नेता और केन्द्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश एक लखनऊ में पत्रकारों से कहा कि, ‘राहुल गांधी की ‘न्याय यात्रा’ जहां-जहां जाएगी वहां गठबंधन टूट जायेगा.’ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ये कहते हुए राहुल गांधी पर तंज कस रहे थे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

राजनाथ सिंह के ऐसा कहने के पीछे की वजह ये है कि, राहुल गांधी अपनी यात्रा लेकर पहले पश्चिम बंगाल गए, वहां ममता बनर्जी ने अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया, फिर बिहार गए वहां सीएम नीतीश कुमार अलायंस को छोड़कर बीजेपी के साथ चले गए और अब यात्रा जब उत्तर प्रदेश में है तब यहां भी पहले RLD के जयंत चौधरी और अब सपा के अखिलेश यादव के अलायंस से किनारा करने की बातें चल रही है.

एक तरफ बीजेपी देश में अपने साथ नए-नए दलों को जोड़ने की जुगत में लगी हुई है दूसरी तरफ कांग्रेस के नेतृत्व में बने INDIA अलायंस से कई दलों का छोड़ना जारी है. उधर पीएम मोदी ने आगामी चुनाव में 400+ सीटों को जीतने का दावा भी कर दिया. देश में कुछ ही दिनों में देश में लोकसभा चुनाव होने है, इस दौर में कांग्रेस के सहयोगी दलों का साथ छोड़ना पार्टी के लिए गंभीर चिंता का विषय है. वैसे अब ये देखना दिलचस्प होगा कि, क्या बीजेपी का मिशन 400+ कामयाब होता है या कांग्रेस अपने पिछले प्रदर्शन में सुधार करते हुए बीजेपी के मिशन को रोक पाती है.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT