देश का मिजाज सर्वे: आज हुए चुनाव तो पंजाब में AAP, BJP, कांग्रेस, अकाली को मिलेंगी इतनी सीट

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

newstak
social share
google news

Mood Of The Nation: देश में अगले लोकसभा चुनावों की तैयारी जोरों पर है. पंजाब में भी चुनावी माहौल गरमाने लगा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने 400 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. दूसरी तरफ, कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष का INDIA गठबंधन भाजपा को 100 सीटों से भी कम पर रोकने का दावा कर रहा है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से पार्टी को पुनर्जीवित करने का प्रयास कर रहे हैं.

सभी की निगाहें इस बात पर टिकी हुई हैं कि आखिरकार लोकसभा चुनावों में किसका पलड़ा भारी रहेगा. पंजाब में, जहां लोकसभा की 13 सीटें हैं, चुनावी मुकाबला रोमांचक होने की उम्मीद है. इंडिया टुडे और सी-वोटर्स द्वारा किए गए ‘मूड ऑफ द नेशन’ सर्वेक्षण से पता चला है कि पंजाब में चुनावी दंगल काफी दिलचस्प होगा.

पंजाब में 15 दिसंबर 2023 से 28 जनवरी 2024 के बीच किए गए सर्वे के आंकड़े
सर्वेक्षण का सैंपल साइज: 149092
कवर की गई सीटें: देश की सभी 543 लोकसभा सीटें, जिसमें पंजाब की 13 लोकसभा सीटें भी शामिल हैं.

प्रमुख निष्कर्ष:

● भाजपा: सर्वेक्षण के अनुसार, पंजाब में भाजपा को 2 सीटें मिलने की संभावना है.
● AAP: आप को 5 सीटें मिलने का अनुमान है.
● कांग्रेस: कांग्रेस को 5 सीटें मिलने की संभावना है.
● SAD: अकाली दल को 1 सीट मिलने का अनुमान है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पंजाब में INDIA के पार्टनर AAP और कांग्रेस अभी अलग-अलग हैं. पिछले विधानसभा चुनावों में AAP ने शानदार जीत हासिल की थी और राज्य में सत्ता हासिल की थी. भाजपा अपनी खोई हुई जमीन वापस पाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है. पंजाब में चुनावी मुद्दों में नशे के कारोबार, बेरोजगारी, कृषि संकट, महंगाई और भ्रष्टाचार शामिल हैं.

2019 में पंजाब में कैसे थे नतीजे?

2019 के लोकसभा चुनावों में काग्रेस को 8 सीटों पर जीत मिली थी. भाजपा और अकाली गठबंधन को 4 सीटें मिली थीं. इसके अलावा AAP को एक सीट पर जीत मिली थी. मौजूदा सर्वे में कांग्रेस को जहां 3 सीटों का नुकसान दिख रहा है, AAP को चार सीटों का फायदा हो रहा है. बीजेपी और अकाली अलग लड़ रहे हैं. बीजेपी को पिछले चुनाव में भी 2 सीटें ही मिली थीं. अकाली को भी 2 सीटें मिली थीं, लेकिन इस बार के सर्वे में उसे एक सीट का नुकसान होता दिख रहा है.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT