मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने कर ही दिया नेतृत्व परिवर्तन, जानिए कौन हैं नए अध्यक्ष जीतू पटवारी

अभिषेक गुप्ता

ADVERTISEMENT

Jitu Patwari
Jitu Patwari
social share
google news

Jitu Patwari: मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के हाथों करारी शिकस्त के बाद अब कांग्रेस ने अपने नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा की है. पार्टी ने जीतू पटवारी को अपना नया अध्यक्ष बनाया है. दिलचस्प बात ये है कि जीतू इस बार विधानसभा चुनाव में हार गए थे फिर भी पार्टी ने उनपर भरोसा जताते हुए उन्हें कमान सौंपी है. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर कमलनाथ की जगह ली.

कांग्रेस को बीजेपी से मिली करारी हार के बाद अब पटवारी के सामने पार्टी को फिर से खड़ा करने की कठिन चुनौती है. आइए बताते हैं कौन हैं जीतू पटवारी और कांग्रेस ने उन्हें ही क्यों बनाया अध्यक्ष.

कौन हैं जीतू पटवारी?

जीतू पटवारी प्रदेश कांग्रेस के एक तेजतर्रार नेता हैं और वे अपने आक्रामक भाषणों के लिए जाने जाते हैं. पटवारी एमपी के बिजलपुर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के परिवार से आते हैं. उनका जन्म 19 नवंबर 1973 में हुआ था. उन्होंने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा इंदौर से पूरी की. फिर देवी अहिल्या बाई विश्वविद्यालय से बीए और लॉ की पढ़ाई की.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

उन्होंने कांग्रेस के साथ अपना राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी. वह पहली बार साल 2013 में राऊ विधानसभा सीट से विधायक बने थे. विधायक बनने से पहले वो अपने क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य भी रहे. वह गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रभारी, मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट और प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके है. उन्होंने 2018 में राऊ सीट से दूसरी बार चुनाव जीता था. तब कमलनाथ सरकार में उन्हें उच्च शिक्षा, युवा और खेल मामलों के कैबिनेट मंत्री बनाया गया था.

2023 में हुए विधानसभा चुनाव में उन्हें बीजेपी की प्रत्याशी मधू वर्मा के हाथों 35 हजार से ज्यादा वोटों से हार का सामना करना पड़ा.

ADVERTISEMENT

राहुल गांधी के खास माने जाते हैं पटवारी

जीतू पटवारी को राहुल गांधी का करीबी माना जाता हैं. 2017 में प्रदेश के मदसौर में हुए पुलिस की गोलीबारी में कथित तौर पर जब पांच किसानों की मौत हो गई थी तब राहुल ने उनके साथ बाइक की सवारी की थी. जीतू पटवारी ने उन्हें पूरे शहर का दौरा कराया था. हालांकि पुलिस ने उनकी बाइक को रोक लिया था. माना ये जाता है कि इसी घटना ने पटवारी को राहुल का करीबी बना दिया. बाद में जब राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ हुई उसमें भी जीतू राहुल के साथ-साथ चलते दिखे और यात्रा के संयोजक भी रहे.

ADVERTISEMENT

आखिर कांग्रेस ने जीतू पटवारी को ही क्यों बनाया अध्यक्ष?

जीतू पटवारी प्रदेश की राजनीति में कांग्रेस के पुराने नेताओं कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के बाद नई पीढ़ी के युवा चेहरा हैं. उन्होंने अध्यक्ष पद के लिए अन्य दावेदारों को पीछे छोड़ दिया जिसके पीछे की वजह यह है कि वह मालवा निमाड़ क्षेत्र के ओबीसी समुदाय से आते हैं. उसी क्षेत्र से प्रदेश में बीजेपी के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव भी आते हैं. इस क्षेत्र में 66 विधानसभाएं है. यही वजह है कि पार्टी ने इस क्षेत्र को साधते हुए उन्हें अध्यक्ष बनाया है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT